एकला मत छोड़ जो बंजारा रे लिरिक्स Ekala Mat Chhod Jo Banjara Re Lyrics, Kabir Bhajan by Neeraj Arya’s Kabir Cafe

0

परदेस का मामला है, बंजारा अकेला मत छोड़ना, यह अपना घर नहीं है, दूर देस का मामला खोटा/खराब होता है, इसलिए बंजारा, मुझे अकेला मत छोड़ना, अपने ही साथ रखना. जीवात्मा का कथन है की इश्वर ने यह मानव रूपी देह का बंगला/घर बनाया है, ऊपर इसके झरोखे हैं जहाँ से तुम सत्य को देख सकते हो. यहाँ आकर अवश्य ही सत्य को देखना चाहिए.

एकला मत छोड़ जो, बंजारा रे
ओ बंजारा रे,
एकला मत छोड़ जो, बंजारा रे
ओ बंजारा रे,
अरे परदेस का है मामला,
दूर देस रा है मामला,
टेड़ा हो प्यारा रे
एकला मत छोड़ जो, बणजारा रे
ओ बणजारा रे,

अपना साहब जी ने, बंगलो बणायो,
बणजारा रे, बंजारा रे
ऊपर रखिया झरोखा रे,
झांके आके प्यारा रे
एकला मत छोड़ जो, बणजारा रे
ओ बणजारा रे।

अपना साहब जी ने कुओ खुदाया,
बंजारा रे, बंजारा रे
गहरा भरिया नीर वहाँ,
नहाया कर प्यारा रे
एकला मत छोड़ जो, बणजारा रे
ओ बणजारा रे।

अपना साहब जी ने बाग लगायो,
बंजारा रे, बंजारा रे
फूलां भारी है छाबड़ी,
पोया करो प्यारा रे
एकला मत छोड़ जो, बणजारा रे
ओ बणजारा रे।

कहे कबीर धर्मदास से,
ओ बंजारा रे, बंजारा रे
सत अमरापुर पाविया,
सौदागर प्यारा रे,
एकला मत छोड़ जो, बणजारा रे
ओ बणजारा रे।

एकला मत छोड़ जो, बंजारा रे
ओ बंजारा रे,
एकला मत छोड़ जो, बंजारा रे
ओ बंजारा रे,
अरे परदेस का है मामला,
दूर देस रा है मामला,
खोटा हो प्यारा रे
एकला मत छोड़ जो, बणजारा रे
ओ बणजारा रे,

एकला मत छोड़ जो बंजारा रे लिरिक्स Ekala Mat Chhod Jo Banjara Re Lyrics

Ekala Mat Chhod Jo, Banjaara Re
O Banjaara Re,
Ekala Mat Chhod Jo, Banjaara Re
O Banjaara Re,
Are Parades Ka Hai Maamala,
Dur Des Ra Hai Maamala,
Teda Ho Pyaara Re
Ekala Mat Chhod Jo, Banajaara Re
O Banajaara Re,

Apana Saahab Ji Ne, Bangalo Banaayo,
Banajaara Re, Banjaara Re
upar Rakhiya Jharokha Re,
Jhaanke Aake Pyaara Re
Ekala Mat Chhod Jo, Banajaara Re
O Banajaara Re.

Apana Saahab Ji Ne Kuo Khudaaya,
Banjaara Re, Banjaara Re
Gahara Bhariya Nir Vahaan,
Nahaaya Kar Pyaara Re
Ekala Mat Chhod Jo, Banajaara Re
O Banajaara Re.

Apana Saahab Ji Ne Baag Lagaayo,
Banjaara Re, Banjaara Re
Phulaan Bhaari Hai Chhaabadi,
Poya Karo Pyaara Re
Ekala Mat Chhod Jo, Banajaara Re
O Banajaara Re.

Kahe Kabir Dharmadaas Se,
O Banjaara Re, Banjaara Re
Sat Amaraapur Paaviya,
Saudaagar Pyaara Re,
Ekala Mat Chhod Jo, Banajaara Re
O Banajaara Re.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *