हम नवयुग का आह्वान करें।
सम्हलो हिन्दू युवकों
अब तो अतीत-गौरव का ध्यान करें।
हम नवयुग का आह्वान करें॥

अब बीत गई काली रजनी
जग ने पाया प्रत्यूष काल
हो उदित चला धीर-धीरे
यह संघ -कार्य का अंशुमालि
अब राहू की यह दशा टली
और मोक्ष पर्व प्रारम्भ हुआ
विश्रान्त केसरी जाग उठा
जागरण गान आरम्भ हुआ
हम वीर तरुण केशव के
नूतन शर का संधान करें।
हम नवयुग का आह्वान करें॥१॥

अपनी इस दीन अवस्था से
जब हिन्दु-ह्रदय तिलमिला उठा
यह देख नीरव-नगरी में
कैसा अनुपम व्यवहार हुआ
चिर-शांत दैन्ययुत ह्रदयों में
राष्ट्रीय जीवन संचार हुआ
भूधर दहले दिगन्त काँपे
ऐसा अपूर्व आह्वान करें।
हम नवयुग जा आह्वान करें॥२॥

अपने अन्तर की ज्वाला से
अब जीवन -ज्योति जल दें हम
दानव-पथ पर बढ़ते मानव को
मानवता सिखला दें हम
अपने अगणित बलिदानों से
माँ के ऋण आज चुका दें हम
हम हिन्दु-वीर अब अति प्रचण्ड
रणचण्डी का आह्वान करें
हम नवयुग का आह्वान करें॥३॥

है सुगम कार्य सह कटु-प्रहार
हँसते-हँसते बलि हो जाना
है सरल कार्य ही समरांगण में
स्वयं वीरगति पा जाना
पर अपनी स्वर्णमयी दुनियाँ को
अपने ही पैरों ठुकराकर
कोमाल कलिका समान जीवन को
धरें राष्ट्र देव के चरणों पर
हम धीर-वीर हैं तरुण तपस्वी
कठोरतम बलिदान करें।
हम नवयुग का आह्वान करं॥४॥

हमने कुसुमित कलिका समान
शैशव को लुटते देखा हि
सौन्दर्य स्वर्ण की तृष्णा में
यौवन को जलते देखा है
देखा चिन्ता-दावानल में
जीते-जीते ही जल जाना
शैया पर अजर-अमर मानव का
सिसक -सिसक कर मर जाना
हम वीर-व्रती क्यों रुके अभी तक
तन मन धन बलिदान करें
हम नवयुग का आह्वान करें॥५॥

hama navayuga kā āhvāna kareṁ |
samhalo hindū yuvakoṁ
aba to atīta-gaurava kā dhyāna kareṁ |
hama navayuga kā āhvāna kareṁ ||

aba bīta gaī kālī rajanī
jaga ne pāyā pratyūṣa kāla
ho udita calā dhīra-dhīre
yaha saṁgha -kārya kā aṁśumāli
aba rāhū kī yaha daśā ṭalī
aura mokṣa parva prārambha huā
viśrānta kesarī jāga uṭhā
jāgaraṇa gāna ārambha huā
hama vīra taruṇa keśava ke
nūtana śara kā saṁdhāna kareṁ |
hama navayuga kā āhvāna kareṁ ||1||

apanī isa dīna avasthā se
jaba hindu-hradaya tilamilā uṭhā
yaha dekha nīrava-nagarī meṁ
kaisā anupama vyavahāra huā
cira-śāṁta dainyayuta hradayoṁ meṁ
rāṣṭrīya jīvana saṁcāra huā
bhūdhara dahale diganta kāpe
aisā apūrva āhvāna kareṁ |
hama navayuga jā āhvāna kareṁ ||2||

apane antara kī jvālā se
aba jīvana -jyoti jala deṁ hama
dānava-patha para baṛhate mānava ko
mānavatā sikhalā deṁ hama
apane agaṇita balidānoṁ se
mā ke ṛṇa āja cukā deṁ hama
hama hindu-vīra aba ati pracaṇḍa
raṇacaṇḍī kā āhvāna kareṁ
hama navayuga kā āhvāna kareṁ ||3||

hai sugama kārya saha kaṭu-prahāra
hasate-hasate bali ho jānā
hai sarala kārya hī samarāṁgaṇa meṁ
svayaṁ vīragati pā jānā
para apanī svarṇamayī duniyā ko
apane hī pairoṁ ṭhukarākara
komāla kalikā samāna jīvana ko
dhareṁ rāṣṭra deva ke caraṇoṁ para
hama dhīra-vīra haiṁ taruṇa tapasvī
kaṭhoratama balidāna kareṁ |
hama navayuga kā āhvāna kaeraeṁ ||4||

hamane kusumita kalikā samāna
śaiśava ko luṭate dekhā hi
saundarya svarṇa kī tṛṣṇā meṁ
yauvana ko jalate dekhā hai
dekhā cintā-dāvānala meṁ
jīte-jīte hī jala jānā
śaiyā para ajara-amara mānava kā
sisaka -sisaka kara mara jānā
hama vīra-vratī kyoṁ ruke abhī taka
tana mana dhana balidāna kareṁ
hama navayuga kā āhvāna kareṁ ||5||

, , , , , , , , , , , ,

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply