Shiv to jage kintu desh ka-शिव तो जागे किन्तु देश का 1

शिव तो जागे किन्तु देश का शक्ती जागरण शेष है ।
देव जुटे यत्नोमें लेकिन असुर निवारण शेष है
वक्ष विदारण शेष है ॥धृ॥

संघे शक्ती कलौ युगे यह जन मन का विश्वास है।
पौरुष ही आधार सत्य का इसका भी आभास है।
सामुहिक आर्यत्व शक्ती का आयुध धारण शेष है ॥

यमुना दूषित गंगा मैली रामजन्मभू खिन्न है ।
रघुकुल रीती भुला-ई हमने भा-ई भा-ई भिन्न है ।
गोरा शासन गया दास्य का जड का कारण शेष है ॥

अबला अब भी नारी बेबस अर्जुन भ्रम मे ग्रस्त है
हुये मुग्ध अभिमन्यु व्युह मे धर्म होट मे मस्त है
द्रुपद सुता का चीर उतरता संकट तारण शेष है ॥

इस धरती की हिन्दु शक्ती को फिर चेतन होना होगा
दिव्यायुध आभूषित होकर असमंजस खोना होगा
शंखनाद हो चुका युद्ध का जय उच्चारण शेष है ॥

English Transliteration:
śiva to jāge kintu deśa kā śaktī jāgaraṇa śeṣa hai
deva juṭe yatnomeṁ lekina asura nivāraṇa
śeṣa hai vakṣa vidāraṇa śeṣa hai ||dhṛ||

saṁghe śaktī kalau yuge yaha jana mana kā viśvāsa hai
pauruṣa hī ādhāra satya kāa isakā bhī ābhāsa hai
sāmuhika āryatva śaktī kā āyudha dhāraṇa śeṣa hai ||

yamunā dūṣita gaṁgā mailī rāmajanmabhū khinna hai
raghukula rītī bhulā-ī hamane bhā-ī bhā-ī bhinna hai
gorā śāsana gayā dāsya kā jaḍa kā kāraṇa śeṣa hai ||

abalā aba bhī nārī bebasa arjuna bhrama me grasta hai
huye mugdha abhimanyu vyuha me dharma hoṭa me masta hai
drupada sutā kā cīra utaratā saṁkaṭa tāraṇa śeṣa hai ||

isa dharatī kī hindu śaktī ko phira cetana honā hogā
divyāyudha ābhūṣita hokara asamaṁjasa khonā hogā
śaṁkhanāda ho cukā yuddha kā jaya uccāraṇa śeṣa hai ||

Leave a Reply