Aao Bachho Tumhe Dekhaye || आओ बच्चो तुम्हे दिखाये || RSS Geet

आओ बच्चो तुम्हे दिखाये झाकी हिन्दुस्थान की
इस मिट्टि से तिलक करो यह धरती है बलिदान की॥धृ॥
वन्दे मातरम् वन्दे मातरम्
ये है मुल्क मराठों का यहा शिवाजी डोला था
मुघलों की ताकत को इसने तलवारों पे तोला था
हर पर्बत पर आग लगी थी हर पर्बत एक शोला था
बोली हर हर महदेव की बच्चा बच्चा बोला था
शेर शिवजी ने रख्खी थी लाज हमारे शान की॥१॥
वन्दे मातरम् वन्दे मातरम्
जलियावाला बाग ये देखो यही चली थी गोलिया
ये मत पूछो किसने खेलि यहा खून की होलिया
एक तरफ़ बन्दूके दन दन एक तरफ़ थी गोलिया
मरनेवाले बोल रहे थे इन्क़लाब की बोलिया
यहा लगा दी बेहनोने भी बाज़ी अपनी जान की॥२॥
वन्दे मातरम् वन्दे मातरम्

Aao bachon tumhe dekhaye jhaki Hindustan ki
is mitti se tilak karo ye dharti hai balidan ki

yeh hai mulk marathon ka yahan Shivaji dola tha
Mughalon ki takat ko isne talwaron pe tola tha
har parbat par aag lagi thi har parbat ekshola tha
boli har har Mahadev ki bachha bachha bola tha
Sher Shivaji ne rakhi thi laj hamari jaan ki
is mitti se—

Jaliyanwalah bagh yeh dekho yehi chali thi goliyan
yeh mat pucho kisne kheli yehan khoon ki holiyan
Ek taraf bandook-ki dhan dhan ek taraf thi goliyan
Marnewale bol rahe the inquilab ki boliyan
Yahan laga di behanon ne bhi baazi apni jaan ki
Is mitti se……

Leave a Reply