अमरत्व के पुजारी हम पुत्र इस धरा के
उज्ज्वल हमीं करेंगे भवितव्य मातृ भू के

संसार जीत कर जो आये अनेक योध्दा
उनका न चिन्ह कोई अवशिष्ट हमने छोडा
इतिहास विगत सारा संघर्ष का है अपना
गजनी हो या सिकन्दर सब रह गये है सपना
हम कालपुत्र है हम मृत्युंजयी सदा के॥ उज्ज्वल ॥१॥

युनान मिस्र रोमॉ के ज्ञान की कलाएँ
क्षण मात्र की चमक थीं जग आज है भूलाये
जब कालचक्र घूमा वे मिट गए सदा को
साक्षी बने खडे है हम जीत कर अनेकों
प्रत्यक्ष हमने देखे है आदि अंत जिनके॥उज्ज्वल॥२॥

जब कालकूट पीकर हमको न मृत्यु आई
अग्नी भी पद्मिनी की आत्मा जला न पाई
दाहिर की बालिकाएँ धर्मार्थ प्राण देकर
अंकित ह्र्दय पटल पर अति दिव्य रुप लेकर
वे प्राण है हमारे हम प्राण इस धरा के॥उज्ज्वल ॥३॥

लडता युगों से आया यह राष्ट्र संकटो से
कालोर्मियाँ भी लौटीं थक हार इन तटों से
शुचि और शुभ्र जीवन की अमर बेली फैली
जिसने अनेक घातें बढते हूए भी सह लीं
त्रैलोक्य व्याप्त व्याप्त करले यह आस मन में सबके॥उज्ज्वल ॥४॥

यह चिन्मयी भरत भू जगती को जन्म देती
निज धर्म को बचाने देवों को जन्म देती
यह मूर्ति अन्नपुर्णा प्रख्यात विश्व भर की
यह कालि रूपिणी माँ रिपुदल विनाश करती
शोभित इसे करेंगे फिर शीर्ष पर धरा के॥उज्ज्वल ॥५॥

amaratva ke pujārī hama putra isa dharā ke
ujjvala hamīṁ kareṁge bhavitavya mātṛ bhū ke

saṁsāra jīta kara joa āye aneka yodhdā
uanakā na cinha koī avaśiṣṭa hamane choḍā
itihāsa vigata sārā saṁgharṣa kā hai apanā
gajanī ho yā sikandara saba raha gaye hai sapanā
hama kālaputra hai hama mṛtyuṁjayī sadā ke || ujjvala ||1||

yunāna misra romô ke jñāna kī kalāe
kṣaṇa mātra kī camaka thīṁ jaga āja hai bhūlāye
jaba kālacakra ghūmā ve miṭa gae sadā ko
sākṣī bane khaḍe hai hama jīta kara anekoṁ
pratyakṣa hamane dekhe hai ādi aṁta jinake ||ujjvala ||2||

jaba kālakūṭa pīkara hamako na mṛtyu āī
agnī bhī padminī kī ātmā jalā na pāī
dāhira kī bālikāe dharmārtha prāṇa dekara
aṁkita hrdaya paṭala para ati divya rupa lekara
ve prāṇa hai hamāre hama prāṇa isa dharā ke ||ujjvala ||3||

laḍatā yugoṁ se āyā yaha rāṣṭra saṁkaṭo se
kālormiyā bhī lauṭīṁ thaka hāra ina taṭoṁ se
śuci aura śubhra jīvana kī amara belī phailī
jisane aneka ghāteṁ baḍhate hūe bhī saha līṁ
trailokya vyāpta vyāpta karale yaha āsa mana meṁ sabake||ujjvala ||4||

yaha cinmayī bharata bhū jagatī ko janma detī
nija dharma ko bacāne devoṁ ko janma detī
yaha mūrti annapurṇā prakhyāta viśva bhara kī
yaha kāli rūpiṇī mā ripudala vināśa karatī
śobhita ise kareṁge phira śīrṣa para dharā ke ||ujjvala ||5||

, , , , , , , , , , , ,

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply