ले चले हम राष्ट्र नौका को भंवर से पार कर
केसरी बाना सजायें वीर का श्रृंगार कर ॥

डर नही तूफ़ान बादल का अँधेरी रात का
डर नही है धूर्त दुनिया के कपट के घात का
नयन में ध्रुव ध्येय के अनुरूप ही दृढ़ भाव भर ॥

है भरा मन में तपस्वी मुनिवरों का त्याग है
और हृदयों में हमारे वीरता की आग है
हाथ है उद्योग में रत राष्ट्र सेवा धार कर ॥

सिन्धु से आसाम तक योगी शिला से मानसर
गूंजते हैं विश्व जननी प्रार्थना के उच्च स्वर
सुप्त भावों को जगा उत्साह का संचार कर ॥

स्वार्थ का लवलेश सत्ता की हमें चिंता नही
प्रान्त भाषा वर्ग का कटु भेद भी छूता नही
एक हैं हम एक आशा योजना साकार कर ॥

शपथ लेकर पूर्वजों की आशा हम पूरी करें
मस्त हो कर कार्य रत हो ध्येयमय जीवन धरें
दे रहे युग की चुनौती आज हम ललकार कर ॥

English Transliteration:
le cale hama rāṣṭra naukā ko bhaṁvara se pāra kara
kesarī bānā sajāyeṁ vīra kā śrṛṁgāra kara ||

ḍara nahī tūfāna bādala kā adherī rāta kā
ḍara nahī hai dhūrta duniyā ke kapaṭa ke ghāta kā
nayana meṁ dhruva dhyeya ke anurūpa hī dṛṛha bhāva bhara ||

hai bharā mana meṁ tapasvī munivaroṁ kā tyāga hai
aura hṛdayoṁ meṁ hamāre vīratā kī āga hai
hātha hai udyoga meṁ rata rāṣṭra sevā dhāra kara ||

sindhu se āsāma taka yogī śilā se mānasara
gūṁjate haiṁ viśva jananī prārthanā ke ucca svara
supta bhāvoṁ ko jagā utsāha kā saṁcāra kara ||

svārtha kā lavaleśa sattā kī hameṁ ciṁtā nahī
prānta bhāṣā varga kā kaṭu bheda bhī chūtā nahī
eka haiṁ hama eka āśā yojanā sākāra kara ||

śapatha lekara pūrvajoṁ kī āśā hama pūrī kareṁ
masta ho kara kārya rata ho dhyeyamaya jīvana dhareṁ
de rahe yuga kī cunautī āja hama lalakāra kara ||

, , , , , , , , , , , ,

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply