Sangathan hum kare, aafato se lade mann me thana | संगठन हम करें, आफतों से लडे हमने ठाना ( संघ गीत माला )

संगठन हम करें , आफतों से लडे हमने ठाना।

हम बदल देंगे सारा ज़माना। ।

वीर प्रताप के शेरों जागो , वीर बंदा की शमशीर जागो।

बज रहा है विगुल , नौजवां तू निकल रण में जाना। ।

हम बदल देंगे सारा ज़माना———————

संगठन हम करें , आफतों से लडे हमने ठाना।

हम बदल देंगे सारा ज़माना। ।

शेर शिवराज की तेग खड़के ,बोली हर – हर महादेव भड़के।

शक्ति हो साथ में , भगवा हो हाथ में , बढ़ते जाना। ।

हम बदल देंगे सारा ज़माना———————

संगठन हम करें , आफतों से लडे हमने ठाना।

हम बदल देंगे सारा ज़माना। ।

वीर केशव ने यह गीत गाया , राम राज्य का डंका बजाया।

हम जिए या मरे , हर बला से लडे , हमने ठाना।।

हम बदल देंगे सारा ज़माना———————

संगठन हम करें , आफतों से लडे हमने ठाना।

हम बदल देंगे सारा ज़माना। ।

Leave a Reply