चाहिये आशिश माधव नम्र गुरुवर प्रार्थना ॥धृ॥
देव इंगित पर तुम्हारे ध्येय पथ पर बढ रहे है
आपसे ज्योतित अनेकों दीप अविचल जल रहे है
राष्ट्र जीवन का गहन तम शीघ्र ही मिटकर रहेगा
मातृ मन्दिर में विभूषित दिव्य तव आराधना ॥१॥
संकटों से पूर्ण पथ पर पुण्य स्मृती तव मार्गदर्शक
पूर्ण होंगे शूल सारे मित्र होंगे सब विरोधक
दीजिये वर शक्ती ऋषिवर बढ सके पथ पर निरन्तर
कर सके साकार गुरुवर आपकी कल्पना ॥२॥
चाहिये आशिश माधव नम्र गुरुवर प्रार्थना ॥धृ॥

शत्रु को भी जीतता था आपका चारित्र्य उज्वल
निन्दकों पर मात करता आपका व्यवहार निर्मल
मातृभू की वेदना जो आपके मन में बसी थी
पा सके अल्पांश भी तो पूर्ण होगी साधना ॥३॥
चाहिये आशिश माधव नम्र गुरुवर प्रार्थना ॥धृ॥

पूज्य केशव के भगीरथ साथ लाये संघ धारा
इष्ट उनकों मान तुमने भाग्य भारत का सँवारा
लक्ष्य की द्रुत पूर्ती हो हम माँगते आशिश तुमसे
कर सके हम शीघ्र पूरी मातृभू की अर्चना ॥४॥
चाहिये आशिश माधव नम्र गुरुवर प्रार्थना ॥धृ॥

chaahiye aashish maadhav namr guruvar praarthana .dhr.
dev ingit par tumhaare dhyey path par badh rahe hai
aapase jyotit anekon deep avichal jal rahe hai
raashtr jeevan ka gahan tam sheeghr hee mitakar rahega
maatr mandir mein vibhooshit divy tav aaraadhana .1.
sankaton se poorn path par puny smrtee tav maargadarshak
poorn honge shool saare mitr honge sab virodhak
deejiye var shaktee rshivar badh sake path par nirantar
kar sake saakaar guruvar aapakee kalpana .2.
chaahiye aashish maadhav namr guruvar praarthana .dhr.

shatru ko bhee jeetata tha aapaka chaaritry ujval
nindakon par maat karata aapaka vyavahaar nirmal
maatrbhoo kee vedana jo aapake man mein basee thee
pa sake alpaansh bhee to poorn hogee saadhana .3.
chaahiye aashish maadhav namr guruvar praarthana .dhr.

poojy keshav ke bhageerath saath laaye sangh dhaara
isht unakon maan tumane bhaagy bhaarat ka sanvaara
lakshy kee drut poortee ho ham maangate aashish tumase
kar sake ham sheeghr pooree maatrbhoo kee archana .4.
chaahiye aashish maadhav namr guruvar praarthana .dhr.

, , , , , , , , , , , ,

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply