माँ बस यह वरदान चाहिए

जीवन-पथ जो कंटकमय हो
विपदाओं का घोर वलय हो
किन्तु कामना एक यही बस
प्रतिपल पग गतिमान चाहिए॥१॥

हास मिले या त्रास मिले
विश्वास मिले या फाँस मिले
गरजे क्यों न काल ही सम्मुख
जीवन का अभिमान चाहिए॥२॥

जीवन के इन संघर्षो में
दुःख-कष्ट के दावानल में
तिल-तिल कर तन जले न क्यों पर
होंठों पर मुस्कान चाहिए॥३॥

कंटक पथ पर गिरना चढ़ना
स्वाभाविक है हार जीतना
उठ-उठ कर हम गिरें उठें फिर
पर गुरुता का ज्ञान चाहिए॥४॥

मेरी हार देश की जय हो
स्वार्थ -भाव का क्षण-क्षण क्षय हो
जल-जल कर जीवन दूँ जग को
बस इतना सम्मान चाहिए॥५॥

mā basa yaha varadāna cāhie

jīvana-patha jo kaṁṭakamaya ho
vipadāoṁ kā ghora valaya ho
kintu kāmanā eka yahī basa
pratipala paga gatimāna cāhie ||1||

hāsa mile yā trāsa mile
viśvāsa mile yā phāsa mile
garaje kyoṁ na kāla hī sammukha
jīvana kā abhimāna cāhie ||2||

jīvana ke ina saṁgharṣo meṁ
duaḥkha-kaṣṭa ke dāvānala meṁ
tila-tila kara tana jale na kyoṁ para
hoṁṭhoṁ para muskāna cāhie ||3||

kaṁṭaka patha para giranā caṛhanā
svābhāvika hai hāra jītanā
uṭha-uṭha kara hama gireṁ uṭheṁ phira
para gurutā kā jñāna cāhie ||4||

merī hāra deśa kī jaya ho
svārtha -bhāva kā kṣaṇa-kṣaṇa kṣaya ho
jala-jala kara jīvana dū jaga ko
basa itanā sammāna cāhie ||5||

, , , , , , , , , , , ,

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply