Maiya Hai Meri Sherawali Lyrics || मैया है मेरी शेरावाली लिरिक्स

|| श्लोक ||
दरबार हजारो देखे है,
पर माँ के दर सा कोई,
दरबार नही,
जिस गुलशन मे,
माँ का नूर ना हो,
ऐसा तो कोई गुलज़ार नही,
दुनिया से भला मै क्या माँगु,
दुनिया तो एक भीखारन है,
माँगता हूँ अपनी माता से,
जहाँ होता कभी इनकार नही॥

मैय्या है मेरी शेरोवाली,
शान है माँ की बड़ी निराली,
सच्चा है माँ का दरबार,
मैय्या का जवाब नही॥

ऊँचे पर्वत भवन निराला,
भवन मे देखो सिंघ विशाला,
सिंघ पे है मैय्या जी सवार,
मैय्या का जवाब नही॥॥

माथे की बिंदियां चम चम चमके,
हाथो का कंगना खन खन खनके,
लाल गले मे हार,
मैय्या का जवाब नही॥॥

माँ है दुर्गा माँ है काली,
भक्तो की झोली भरने वाली मैया,
करती बेड़ा पार,
मैय्या का जवाब नही॥॥

नंगे पेरौ अकबर आया,
ला सोने छत्र चढ़ाया,
दुर किया अहंकार,
मैय्या का जवाब नही॥॥

मैय्या है मेरी शेरोवाली,
शान है माँ की बड़ी निराली,
सच्चा है माँ का दरबार,
मैय्या का जवाब नही॥

Maiya Hai Meri Sherawali Lyrics

॥ Shalok ॥
Darbaar Hazaro Dekhe Hai
Par Maa Ke Dar Sa Koi
Darbaar Nahi Hai
Jis Gulshan Me
Maa Ka Noor Naa Ho

Aisa To Koi Gulzaar Nahi
Duniya Se Bhala Me Kya Mangu
Duniya To Ek Bikharan Hai
Mangata Hu Apni Mata Se
Jaha Hota Kabhi Inkaar Nahi

Maiya Hai Meri Sherowali
Shaan Hai Maa Ki Badi Nirali
Saccha Hai Maa Ka Darbaar
Maiya Ka Jabab Nahi

Uche Parbat Bhawan Nirala
Bhawan Me Dekho Singh Vishala
Singh Pe Hai Maiya Ji Sawar
Maiya Ka Jabab Nahi

Mathe Kibindiya Cham Cham Chamke
Hatho Ka Kangana Khan Khan Khanke
Laal Gale Me Haar Hai
Maiya Ka Jabab Nahi

Maa Hai Durga Maa Hai Kali
Bhakto Ki Jholi Bharne Wali Maiya
Karti Hai Bedapaar
Maiya Ka Jabab Nahi

Nange Pero Akbar Aaya
Laa Sone Chatra Chadhaya
Dur Kiya Ahankaar
Maiya Ka Jabab Nahi

Maiya Hai Meri Sherowali
Shaan Hai Maa Ki Badi Nirali
Saccha Hai Maa Ka Darbaar
Maiya Ka Jabab Nahi

Leave a Reply