मन मस्त फ़कीरी धारी है
अब एक ही धुन जय जय भारत ॥

हम धन्य है इस जगजननी की
सेवा का अवसर है पाया
इसकी माटी वायु जल से
दुर्लभ जीवन है विकसाया
यह पुष्प इसी के चरणोमे
माँ प्राणो से भी प्यारी है ॥

सुन्दर सपने नव आकर्षण
सब तोड चले मुख मोड चले
वैभव महलों का क्या करना
सोते सुख से आकाश तले
साधन की ओर ना ताकेंगे
काँटों की राह हमारी है ॥

ऋषियों मुनियों संतो का तप
अनमोल हमारी थाती है
बलदानी वीरो की गाथा
अपने रग रग लहराती है
गौरवमय नव इतीहास रचे
अब अपनी ही तो बारी है ॥

English Transliteration:
mana masta fakīrī dhārī hai
aba eka hī dhuna jaya jaya bhārata ||

hama dhanya hai isa jagajananī kī
sevā kā avasara hai pāyā
isakī māṭī vāyu jala se
durlabha jīvana hai vikasāyā
yaha puṣpa isī ke caraṇome
mā prāṇo se bhī pyārī hai ||

sundara sapane nava ākarṣaṇa
saba toḍa cale mukha moḍa cale
vaibhava mahaloṁ kā kyā karanā
sote sukha se ākāśa tale
sādhana kī ora nā tākeṁge
kāṭoṁ kī rāha hamārī hai ||

ṛṣiyoṁ muniyoṁ saṁto kā tapa
anamola hamārī thātī hai
baladānī vīro kī gāthā
apane raga raga laharātī hai
gauravamaya nava itīhāsa race
aba apanī hī to bārī hai ||

, , , , , , , , , , , ,

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply