Swayam Ab Jaagkar Hamko Jagana Desh Hai Apna || स्वयं अब जागकर हमको जगाना देश है अपना || वर्ग गीत आरएसएस। RSS Varg Geet

स्वयं अब जागकर हमको जगाना देश है अपना। ।

हमारे देश की मिट्टी , हमें प्राणों से प्यारी है

यहीं के अन्न , जल ,वायु , परम श्रद्धा हमारी है

स्वभाषा है हमें प्यारी , औ प्यारा देश है अपना। ।१

जगाना देश है अपना ………………………….. । ।

नहीं है अब समय कोई , गहन निंद्रा में सोने का

समय है एक होने का , न मतभेदों में खोने का

बढ़े बल राष्ट्र का जिससे , वो करना मेल है अपना। ।२

जगाना देश है अपना ………………………….. । ।

जतन हो संगठित हिन्दू , औ सक्रिय भाव भरने का

जगाने राष्ट्र की भक्ति , उत्तम कार्य करने का

सम्मुत राष्ट्र हो भारत , यही उद्देश्य है अपना। । ३

जगाना देश है अपना ………………………….. । ।

Leave a Reply