कोरोना वायरस महामारी के बीच जहां हर तरफ से सिर्फ बुरी खबरें सुनने मिल रही है, वहीं महाराष्ट्र से अब अच्छी खबर सामने आई है। देश में एक बार फिर महिला सशक्तिकरण का डंका बजा है। बता दें कि महाराष्ट्र के नासिक में बल के प्रमुख कॉम्बैट आर्मी एविएशन ट्रेनिंग स्कूल में पहली बार हेलीकॉप्टर पायलट के रूप में प्रशिक्षित करने के लिए दो महिला सैन्य अधिकारियों का चयन किया गया है। बता दें कि अब तक महिला अधिकारियों को आर्मी एविएशन कॉर्प्स (सेना उड्डयन कोर) में ग्राउंड ड्यूटी का काम सौंपा जाता था।

आर्मी एविएशन कॉर्प्स में पहली बार ऐसा होने जा रहा है कि दो महिला अधिकारियों को भविष्य में हेलीकॉप्टर उड़ाने के लिए कॉम्बैट आर्मी एविएशन ट्रेनिंग स्कूल में प्रशिक्षित किया जाएगा। पायलटों को कड़ी चयन प्रक्रिया से गुजरना पड़ता है। भारतीय सेना ने इस पॉजिटिव खबर की जानकारी देते हुए बताया कि 15 अधिकारियों ने स्वेच्छा से सेना के उड्डयन में शामिल होने के लिए कहा था, लेकिन केवल 2 अधिकारी ही पायलट एप्टीट्यूड बैटरी टेस्ट और मेडिकल सहित कड़ी चयन प्रक्रिया के बाद इस जिम्मेदारी के लिए चुना गया। नासिक में प्रशिक्षण सफलतापूर्वक पूरा करने पर महिला अधिकारी 22 जुलाई तक उड़ान ड्यूटी में शामिल होंगी।

आपको बता दें कि सेना प्रमुख जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने पिछले महीने के महिला अधिकारियों को से की विमानन शाखा में शामिल करने की अनुमति दी थी, जिसके बाद 15 महिलाओं ने आर्मी एविएशन कॉर्प्स में शामिल होने के लिए अच्छा जाहिर की। हालांकि चयन प्रक्रिया में सिर्फ दो महिला अधिकारियों को ही हेलीकॉप्टर पायलट के लिए चुना गया। ये महिलाएं जुलाई 2022 में अपनी ट्रेनिंग पूरी कर फ्रंट-लाइन फ्लाइंग ड्यूटी में शामिल होंगी। भविष्य में दोनों महिला अधिकारी भारतीय वायु सेना और भारतीय नौसेना में हेलीकॉप्टर उड़ाती दिखाई देंगी।

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply