इंसान यदि काबिल हो तो खुद को बाधाओं के भंवर से भी निकाल सकता है और सफलता की कहानी गढ सकता है ! इसी बात को झारखण्ड की रहने वाली एक लड़की नंदिता हरिपाल ने अपने कठिन परिश्रम से साबित किया है ! दर्जी पिता और दूसरों के घरों में काम करने वाली माता की बेटी नंदिता ने गरीबी को झेलते हुए 12वीं कक्षा के कला स्ट्रीम में पूरे राज्य भर में प्रथम स्थान प्राप्त किया है ! आईए जानते हैं कि नंदिता ने कैसे समस्याओं के गहरे जाल को भेदकर सफलता का परचम लहराया…

नंदिता हरिपाल झारखण्ड के जमशेदपुर वीमेंस कॉलेज की छात्रा हैं ! बचपन से हीं नंदिता को पढाई में खास रूचि है ! वह एक गरीब परिवार से आती हैं ! उनके पिता जमशेदपुर में हीं एक प्राइवेट बुटीक में दर्जी का काम करते हैं तो माता दूसरों के घरों में जाकर घरेलू काम-काज किया करती हैं ! गरीबी के कारण नंदिता को पढाई में आर्थिक बाधाएँ आईं लेकिन नंदिता ने उनसे जूझते हुए पढाई के प्रति अपनी संजीदगी कायम रखी और सफलता की पराकाष्ठा बनीं !

इस तरह की तैयारी

अपनी परीक्षा तैयारी के बारे में बात करते हुए वह बताती हैं कि “मैं नियमित रूप से कक्षाओं में जाती थी , मैंने कभी भी कोई क्लास नहीं छोड़ा ! मैंने पढाई के लिए एक रूटीन बनाया जिसे मैं फॉलो करती रही ! मैंने एक कोचिंग भी ज्वाइन की तथा उसके साथ खुद से खूब मेहनत करी” !

पत्रकार बनना चाहती हैं

नंदिता हरिपाल अब आगे की पढाई जारी रखते हुए पत्रकार बनना चाहती हैं ! समाचार एजेंसी ANI से बात करते हुए उन्होंने कहा “मैं एक पत्रकार बनना चाहती हूँ , मेरे माता-पिता हमेशा मेरी पढाई के समर्थक रहे हैं ! आगे की पत्रकारिता की पढाई के लिए हमारे पास पैसे नहीं हैं लेकिन पूर्व में कभी पढाई के लिए उन्होंने पैसे की बाधा नहीं आने दी” ! उनके पिता राजेश हरिपाल कहते हैं कि मैं अपनी बेटी की आगे की पढाई के लिए कोई कसर नहीं छोड़ूँगा , हर माता-पिता को अपने बच्चे की पढाई में सहयोग देना चाहिए , उन्हें समर्थन करना चाहिए ! आज मुझको अपनी बेटी पर खूब गर्व है !

नंदिता हरिपाल ने जिस तरह विषम परिस्थितियों के होते हुए भी पढाई जारी रखी और बेहतरीन सफलता हासिल की वह उनलोगों के लिए बृहद प्रेरणा हैं जो अक्सर अपनी लाचारियों के कारण पढाई से दूरी बना लेते हैं ! नंदिता हरिपाल को ढेर सारी बधाईयां देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना करता है !

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply