दुनिया में मच रहेयो शोर भोले भंडारी,
कोई कहे त्रिपुरारी कोई कहे तप धारी ।
कोई करे तपस्या घोर भोले भंडारी,
दुनिया में मच रहेयो शोर भोले भंडारी ।।

कोई कहे सब दाता कोई भाग विध्याता ।
भगतो का है चितचोर भोले भंडारी ।।
।। दुनिया में मच रहेयो शोर भोले भंडारी ।।

चंदा मस्तक पे है साजे गंगा जटा में विराजे ।
ले सीता राम हिलोर भोला भंडारी ।।
।। दुनिया में मच रहेयो शोर भोले भंडारी ।।

 

Duniya Me Mach Rahiyo
Shor Bhole Bhandhari,
Koi Kahe Tripurari
Koi Kahe Tap Dhari ।

Koi Kare Tapsya
Ghor Bhole Bhandhari,
Duniya Me Mach Rahiyo
Shor Bhole Bhandhari ।।

Koi Kahe Sab Data
Koi Bhag Vidhyata ।
Bhagto Ka Hai Chit Chor
Bhole Bhandhari ।।

।। Duniya Me Mach Rahiyo
Shor Bhole Bhandhari ।।

Chanda Mastak Pe Hai Saje
Ganga Jata Me Viraje ।
Le Sita Ram Hilor
Bhola Bhandhari ।।

।। Duniya Me Mach Rahiyo
Shor Bhole Bhandhari ।।

, , , , , ,

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply