हम हिन्दू हैं हम हिन्दू हैं हम हिन्दू हैं हम हिन्दू हैं
हम हिन्दू हैं हम हिन्दू हैं हम हिन्दू हैं हम हिन्दू हैं

भूले सब भाषा प्रान्त भेद जात्या भिमान का भ्रम भूले
पर भूले मत हम हिन्दू हैं पर भूले मत हम हिन्दू हैं
हम हिन्दू हैं॥१॥

पंजाबी सिंधी गुजराती हो बंगाली होया दक्षिणवासी
हम किसी पंथ के अनुयायी हम किसी वाद के विश्वासी
पर गर्व करें इतना केवल पर गर्व करें इतना केवल
हम हिन्दू हैं॥२॥

गंगा की लहरें गरज रहीं मन्दिर घंटे टंकार रहे।
तीर्थो में ही जयनाद रहा धरती पर्वत हुंकार उठे।
नत मस्तक पुण्य प्रवाहों में नत मस्तक पुण्य प्रवाहों में।
हम हिन्दू हैं॥३॥

सुख दुःख सब एक हमारे हैं इतिहासों के निष्कर्ष सभी
बिखरे तो सारे साथ गिरे मिलकर भोगे उत्कर्ष सभी
है शत्रु मित्र कहते निश्चित हम हिन्दू हैं
है शत्रु मित्र कहते निश्चित हम हिन्दू हैं
हम हिन्दू हैं॥४॥

कोई कितना ही बहकाए इतिहास गढ़े छल फैलाए
युग आयें चाहे युग जाए हम एक सदा रहते आये
हैं पुष्ट एक आधार यही हैं पुष्ट एक आधार यही
हम हिन्दू हैं॥५॥

hama hindū haiṁ hama hindū haiṁ hama hindū haiṁ hama hindū haiṁ
hama hindū haiṁ hama hindū haiṁ hama hindū haiṁ hama hindū haiṁ

bhūle saba bhāṣā prānta bheda jātyā bhimāna kā bhrama bhūle
para bhūle mata hama hindū haiṁ para bhūle mata hama hindū haiṁ
hama hindū haiṁ ||1||

paṁjābī siṁdhī gujarātī ho baṁgālī hoyā dakṣiṇavāsī
hama kisī paṁtha ke anuyāyī hama kisī vāda ke viśvāsī
para garva kareṁ itanā kevala para garva kareṁ itanā kevala
hama hindū haiṁ ||2||

gaṁgā kī lahareṁ garaja rahīṁ mandira ghaṁṭe ṭaṁkāra rahe|
tīrtho meṁ hī jayanāda rahā dharatī parvata huṁkāra uṭhe |
nata mastaka puṇya pravāhoṁ meṁ nata mastaka puṇya pravāhoṁ meṁ|
hama hindū haiṁ ||3||

sukha duaḥkha saba eka hamāre haiṁ itihāsoṁ ke niṣkarṣa sabhī
bikhare to sāre sātha gire milakara bhoge utkarṣa sabhī
hai śatru mitra kahate niścita hama hindū haiṁ
hai śatru mitra kahate niścita hama hindū haiṁ
hama hindū haiṁ ||4||

koī kitanā hī bahakāe itihāsa gaṛhe chala phailāe
yuga āyeṁ cāhe yuga jāe hama eka sadā rahate āye
haiṁ puṣṭa eka ādhāra yahī haiṁ puṣṭa eka ādhāra yahī
hama hindū haiṁ ||5||

, , , , , , , , , , , ,

मैं एक पत्नी होने के साथ साथ गृहिणी एवं माँ भी हुँ । लिखने का हुनर... ब्लॉग लिखती रहती हु... सनातन ग्रुप एक सकारात्मक ऊर्जा, आत्मनिर्भर बनाने की प्रेरणा देती जीवनी, राष्ट्रभक्ति गीत एवं कविताओं की माला पिरोया है । आग्रह :आपको पसन्द आये तो ऊर्जा देने के लिए शेयर एवं अपने सुझाव दीजिए ।

शालू सिंह

🙏 सकारात्मक जानकारी को फेसबुक पर पाने के लिए लाइक करें 👇

Leave a Reply