Shivratri Ki Mahima Apaar Lyrics | शिवरात्रि की महिमा अपार लिरिक्स

शिवरात्रि की महिमा अपार
पूजा शिव की करो
तीनो लोक ही जिसको पूजे
सच्चे मन से मिलके सारे
शिव का जाप करो
शिव का जाप करो

शिवरात्रि की महीमा अपार
पूजा शिव की करो

शिव भक्ति से भाग्य का द्वारा
पल में है खुल जाता
जन्म जन्म के पाप है धुलते
जो माँगो मिल जाता

घट घट की शिव जाने रे
मुख से कहो ना कहो
तीनो लोक ही जिसको पूजे
सच्चे मन से मिलके सारे
शिव का जाप करो
शिव का जाप करो

शिवरात्रि की महीमा अपार
पूजा शिव की करो

सुखदाता शिव संकट हरता
शिव भोले भंडारी
दीनदयाल वो करुणा सागर
सुनते सदा हमारी

शिव को बस वो ही पाएँगे
शिव को ध्याएँगे जो
तीनो लोक ही जिसको पूजे
सच्चे मन से मिलके सारे
शिव का जाप करो
शिव का जाप करो

शिवरात्रि की महीमा अपार
पूजा शिव की करो

शिवरात्रि की महिमा अपार
पूजा शिव की करो
तीनो लोक ही जिसको पूजे
सच्चे मन से मिलके सारे
शिव का जाप करो
शिव का जाप करो

शिवरात्रि की महीमा अपार
पूजा शिव की करो

Shivratri Ki Mahima Apaar
Pooja Shiv Ki Karo
Tino Lok Hi Jisko Pooje
Sacche Man Se Milke Sare
Shiv Ka Jaap Karo
Shiv Ka Jaap Karo

Shivratri Ki Mahima Apaar
Pooja Shiv Ki Karo

Shiv Bhakti Se Bhagya Ka Dwaar
Pal Me Hai Khul Jata
Janam Janam Ke Paap Hai Dhulte
Jo Mango Mil Jata

Ghat Ghat Ki Shiv Jane Re
Mukh Se Kaho Na Kaho
Tino Lok Hi Jisko Pooje
Sacche Man Se Milke Sare
Shiv Ka Jaap Karo
Shiv Ka Jaap Karo

Shivratri Ki Mahima Apaar
Pooja Shiv Ki Karo

Sukhdata Shiv Sankat Harta
Shiv Bhole Bhandari
Deendayal Wo Karuna Sagar
Sunte Sada Humari

Shiv Ko Bas Wo Hi Payega
Shiv Ko Dhyaega Jo
Tino Lok Hi Jisko Pooje
Sacche Man Se Milke Sare
Shiv Ka Jaap Karo
Shiv Ka Jaap Karo

Shivratri Ki Mahima Apaar
Pooja Shiv Ki Karo

Shivratri Ki Mahima Apaar
Pooja Shiv Ki Karo
Tino Lok Hi Jisko Pooje
Sacche Man Se Milke Sare
Shiv Ka Jaap Karo
Shiv Ka Jaap Karo

Shivratri Ki Mahima Apaar
Pooja Shiv Ki Karo

Leave a Reply